International women's day ( History and Theme 2019)

International women’s day ( History and Theme 2019)

GK Point To Remember Study Material

हेलो दोस्तों आज अंतरास्ट्रीय महिला दिवस है ( international women’s day ) और हमारी ये पोस्ट भी इसी पर है कि महिला दिवस मानना कैसे और कब शुरू हुआ और अंतरास्ट्रीय महिला दिवस का इतिहास ( history of international women’s day )क्या है। और इस वर्ष यानि 2019 में अंतरास्ट्रीय महिला दिवस की थीम क्या है।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2018 की थीम – Time is Now: Rural and urban activists transforming women’s lives

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2019 की थीम है ‘Think equal, build smart, innovate for change’ यह थीम महिलाओं को समाज में बराबर का हक देने, उनके विचारों को सामने लाने, उनकी कला और सोच के साथ चलने पर आधारित है।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस यानी International Women’s Day हर साल 8 मार्च को मनाया जाता है। यह दिन महिलाओं को सम्मान देने, उनकी प्रशंसा करने और दुनिया को उनकी मजबूत छवि दिखाने के मकसद से मनाया जाता है। इंटरनेशनल विमन्स डे हर साल एक खास थीम को ध्यान में रखते हुए मनाया जाता है। इस साल की थीम है ‘Think equal, build smart, innovate for change’

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2019 थीम (International Women’s Day 2019 Theme)

यह थीम महिलाओं को समाज में बराबर का हक देने, उनके विचारों को सामने लाने, उनकी कला और सोच के साथ चलने पर आधारित है। पुरुषों की तरह ही महिलाएं भी आगे बहकर अपनी सोच, विचार को रख सकें और उन्हने तवज्जो मिले, यह इस साल विमन्स डे मनाने के पीछे का मकसद बग्ताया जा रहा है।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस इतिहास (history of international women’s day)

आपको जानकार हैरानी होगी कि इंटरनेशनल विमन्स डे पहली बार 8 मार्च को नहीं मनाया गया था। सबसे पहले इसे एक अलग तारीख को मनाया गया। लेकिन बाद में महिलाओं के सम्मान के लोइए एक तारीख नियुक्त करने के मकसद से ही इसे देशभर में हर साल 8 मार्च को मनाने को कहा गया।

कब से हुई शुरुआत?

इतिहास के मुताबिक पहली बार वर्ष 1909 में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया था। लेकिन इसे मनाने के पीछे एक खास मकसद रहा। दरअसल साल 1908 में अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर की कुल 15 हजार महिलाओं ने वोटिंग करने की अपनी मांग के चलते एक मोर्चा निकाला। वे चाहती थीं कि जिस तरह से पुरुषों को अपने देश की सर्कार चुनने के लिए हक मुहैया है ठीक इसी प्रकार उन्हें भी यह हक दिया जाए।

जर्मनी की इन महिलाओं का यह मोर्चा सफल रहा और ठीक एक साल बाद जब अमेरिका में सोशलिस्ट सरकार बनी तो उन्होंने वर्ष 1909 में 28 फरवरी का एक दिन महिलाओं को समर्पित करते हुए ‘महिला दिवस’ के रूप में मनाया। ठीक एक साल बाद जर्मनी में क्लारा जेटकिन ने साल में एक दिन को महिला दिवस के रूप में समर्पित करने का सुझाव रखा।

उन्होंने कहा कि हमें महिलाओं के सम्मान और उनके अधिकारों को याद करने के लिए एक ऐसा दिन निर्धारित करना चाहिए जब हम उनके हक में आवाज उठा सकें। इसके बाद एक कांफ्रेंस में 17 देशों की जानी मानी 100 महिलाओं ने इस मुद्दे पर अपनी सहमती जताई और आखिरकार अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की स्थापना हुई।

8 मार्च की तारीख हुई नियुक्त

19 मार्च 1911 को पहली बार कुल तीन देशों – डेनमार्क, जर्मनी और स्विट्ज़रलैंड में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। दो साल बाद साल 1913 में 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में नियुक्त कर देने का फैसला किया गया। तब से अब तक इसी दिन को महिलाओं के सम्मान, उनके हक और उनके पक्ष में आवाज उठाने के रूप में मनाया जाता है।

 

Some womens day quotes
“A woman is human. She is not better, wiser, stronger, more intelligent, more creative, or more responsible than a man. Likewise, she is never less.  Equality is a given.  A woman is human. ” – ― Vera Nazarian, The Perpetual Calendar of Inspiration
“She could just pack up and leave, but she does not visualize what’s beyond ahead.”  ― Núria Añó
“A woman that knows her worth doesn’t measure herself against another woman but stands strong, calmed and self confident.”  ― Auliq Ice
“OF COURSE WOMEN DO NOT WORK AS HARD AS MEN. THEY GET IT RIGHT THE FIRST TIME”
― Nitya Prakash
“We can’t control what others think We might as well go ahead and live”  ― Sanhita Baruah
“I am a virtuous woman.” ― Lailah Gifty Akita, Think Great: Be Great!

हमारी टीम से कनेक्ट हो कर आप और ज्यादा Study Material प्राप्त कर सकते हैं।

फेसबुक ग्रुप – https://www.facebook.com/groups/howtodosimplethings

फेसबुक पेज – https://www.facebook.com/notesandprojects

व्हाट्सप्प ग्रुप – https://chat.whatsapp.com/LuVYcG5p0lxEohaOv8V6Di

टेलीग्राम चैनल – https://t.me/notesandprojects

इन्हे भी पढ़ें:

For any query or suggestions, or if you have any specific requirement of any kind of educational content you can use our comment section given below and tell us. As your feedback is very important and useful for us.

Notes And Projects.com आपको आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए शुभकामनाएं देता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *